• Shivam Sadana

केप ब्रेटन यूनिवर्सिटी में धूम-धाम से मनाया दीपावली का पर्व / Diwali 2018 a fitting tribute

Updated: Sep 27, 2020


Sydney, N.S


शिवम् सदाना



यूनिवर्सिटी के छात्रों ने हर्षोल्लास के साथ दीपावली का पर्व मनाया| इस उत्सव पर न ही केवल भारतीयों ने जश्न मनाया, पर्देशिओं ने भी जम कर बॉलीवुड, टॉलीवूड और पंजाबी गानों पर ठुमके लगाए| लोगों के लिए यह दृश्य देखने योग्य था| यूनिवर्सिटी के गेम्स काम्प्लेक्स में मंच लगाया गया और यूनिवर्सिटी के सहयोग से यह पर्व सफल हुआ| यहाँ दीप तो न थे लेकिन रंगोली और रोशनी के सेट-अप ने सबका मन मोह लिया| भारतीय बच्चे जो कि भारत के कोने-कोने से यहाँ आये है, उन्होंने अपनी कला का प्रदर्शन किया और अपनी संस्कृति को भीड़ के सामने प्रस्तुत किया| इस फंक्शन में कुल 19 एक्ट्स थी| यह प्रोग्राम शुरू से लेके अंत तक लोगो को लुभाता रहा, कुछ छात्रों ने गाना गाया तो कुछ ने हॉलीवुड के गानों के साथ कर्नाटक बीट्स का फ्यूज़न कर बहुत अच्छे नृत्य की प्रस्तुति दी| इस प्रोग्राम के दौरान मंच जुवेल और गुरशीन ने बड़ी समझदारी से संभाला| यह प्रोग्राम शुरू किया कलाकारों  ने क्लासिकल ट्विस्ट के साथ और फिर शो को आगे बढ़ाया शिवम् ने देसी रैप के साथ| शो में आशिक नामक कवी ने लोगो को खूब आनंदित किया जिसमे उन्होंने अपनी लिखी कविता लोगों को सुनाई| उसके बाद राज भावसार, अनंथा कृष्णन, चंद्रमोहन, जुगराज, अजय कादयान, विशेष, मिलान, भाविका, हरसिमरन, तेजिंदर ने शो में अपना योगदान देके अपनी कला से जनता को खुश किया| प्रोग्राम का हिस्सा एक फैशन शो भी था जिसमे विद्यार्थिओं ने प्रतिभा से भिन्न वेश भूषाओं का प्रदर्शन किया| दिवाली की रात विद्यार्थिओं ने गरबा, भंगड़ा, गाना बजाना से सारी भाषागत बाधाएं दूर की| सब ने कार्यक्रम के दौरान भारतीय व्यंजन जैसे गाजर का हलवा, गुलाब जामुन, टिक्की आदि का लुत्फ़ लिया| यह कार्यक्रम शाम को छ: से नो बजे तक चला जिसके बाद आतिशबाजी का प्रबंध किया गया था, जिसने रात के अँधेरे को दूर किया और इस  रोशनी के त्योहार को पूरक किया| लेकिन यहाँ कनाडा का भी रिवाज अलग है, यहाँ पार्टी के बाद ‘आफ्टर पार्टी’ न हो तो लोग खुश नहीं होते, इसलिए स्टूडेंट यूनियन ने इसका भी खास ख्याल रखा और कैंपस के ‘पिट’ में दिवाली पार्टी का आयोजन किया| इस बार बू बैश जैसा न कोई कवर चार्ज था, न ही कोई ‘नो-री एंट्री’ नियम लागु था| और तो और ‘पिट’ में भी भारतीय गानों का जोर था, जिसमे हर कोई ख़ुशी से थिरकता हुआ नजर आया| विद्यार्थी केप ब्रेटन यूनिवर्सिटी के शुक्रगुजार है कि उन्होंने ऐसा उत्सव ख़ुशी से मनाने का मौका दिया|



Sydney, N.S.


Daniel Boutilier



You wade into a sea of unfamiliar faces, with a full complement of exotic sights and sounds. The music is of a kind you’re not accustomed to, the accents and sometimes even the language of the people are inscrutable to you. You’re hungry but the food being served is new to you, and you’re not sure what to make of it. If you were a Canadian student attending their first Diwali celebration on Wednesday night, this introduction might well describe how you felt – it also likely describes the feelings of hundreds of international students who recently arrived at Halifax Stanfield and J. A. Douglas airports, both eager and apprehensive to start the next chapter in their academic career.



While it is difficult to determine the precise number of guests at CBU’s Diwali celebrations this year, the number being thrown around is 2,000, and that may be a conservative estimate. With approximately 700 new students arriving from India this semester, it comes as no surprise that this year’s celebration eclipsed its previous rendering on campus; and nowhere is this more apparent than the choice of venue, with Diwali outgrowing the Great Hall thoroughfare and moving to the Canada Games Complex. Streams of colourful fabric were hung from the ceiling, long tables of traditional sweets arranged, and some seating available for those who chose to sit down to a meal catered by Caper Crêpes – the hub of international cuisine on campus.




After a welcome by President Dingwall, and a nod to Eleanor Anderson, CBU’s Director of Enrolment, the night was underway. The evening showcased an eclectic mix of modern and traditional performances, including a fashion show which combined elements of both. For those spending their first Diwali outside of India it might have been difficult to compare the night’s events with the ubiquitous celebrations of their home country, but there can be no question that this was the biggest celebration of Indian culture that Cape Breton has seen to date – and with hundreds of new students due to arrive this January, it may not have that distinction for very long.



September was a tumultuous month for Cape Breton University, and that can be tied directly to the influx of international students, most of whom hailed from India. The University’s infrastructure, and that of the wider community, was not initially equipped to handle the transition of these students. Diwali, or the Hindu Festival of Lights, is a celebration of the triumph of good over evil, darkness over light, and of knowledge over ignorance; in this way it is fitting that the community came together, almost two months since the beginning of classes, to celebrate the growth we have undergone together – and the knowledge that diversity does indeed make us stronger.

img-0719.jpg
0 views0 comments

Recent Posts

See All